यूपी: केस से नाम हटाने को दरोगा ने लिए 10 हजार रुपए, अब लेना का देना पड़ गया

यूपी: केस से नाम हटाने को दरोगा ने लिए 10 हजार रुपए, अब लेना का देना पड़ गया यूपी पुलिस के दरोगा आशीष राय पर आरोप है कि उसने मुकदमे से नाम निकालने के नाम पर एक व्यक्ति से दस हजार की रिश्वत मांगी थी. श्रृंगवेरपुर निवासी अयोध्या नामक शख्स से एसआई आशीष राय ने रिश्वत मांगी थी, जिसकी शिकायत अयोध्या ने एंटी करप्शन टीम से की थी. पूरे मामले की जांच कराई गई और जांच में प्रथम दृष्टया आरोप सही पाए जाने पर एंटी करप्शन टीम ने रेड कर दारोगा को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार दरोगा आशीष राय गाज़ीपुर के सैदाबाद का निवासी है. इससे पहले यह भारतगंज के चौकी इंचार्ज भी रह चुका है.

from Latest News उत्तर प्रदेश News18 हिंदी यूपी पुलिस के दरोगा आशीष राय पर आरोप है कि उसने मुकदमे से नाम निकालने के नाम पर एक व्यक्ति से दस हजार की रिश्वत मांगी थी. श्रृंगवेरपुर निवासी अयोध्या नामक शख्स से एसआई आशीष राय ने रिश्वत मांगी थी, जिसकी शिकायत अयोध्या ने एंटी करप्शन टीम से की थी. पूरे मामले की जांच कराई गई और जांच में प्रथम दृष्टया आरोप सही पाए जाने पर एंटी करप्शन टीम ने रेड कर दारोगा को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार दरोगा आशीष राय गाज़ीपुर के सैदाबाद का निवासी है. इससे पहले यह भारतगंज के चौकी इंचार्ज भी रह चुका है.

Post a Comment

Previous Post Next Post